18, Amul Estate, Sarkhej, Ahmedabad

त्रिनेत्र - ओर्गेनिक डीकम्पोझर

त्रिनेत्र सुखे वनस्पति अवशेषोको सडाने वाले जिवाणु एवम एञ्जाइम्स से सम्मिश्रित ओर्गेनिक उत्पादन है। त्रिनेत्र का ऊपयोग खेतमे बचे-सुखे हुए वनस्पति अवशेषो को सडाकर सरल रुप मे परिवर्तित करने हेतु किया जा सकता है।त्रिनेत्र का उत्पदन सपुर्ण रुप से प्राक्रुतिक सम्शधनो से नोर्मित है इस लिये यह उत्पादन समुर्ण रुप से विषः अवशेष मुक्त, पर्यवरण के लिये सुर्क्शित और पशु-प्राणीओ के लिये विषः असर मुक्त है।

वपराश : १- खेती की खाद बनाने के लिये ५०-१०० ग्राम प्रति टन खाद के अनुसार पानीमे घोलकर करे

२- बागायत फ़सल मे गिरे हुए पत्तो -फ़ूल को सडाने हेतु जमीन पर छीड्काव ५० ग्राम प्रति पम्प के अनुसार करे।

विशेषः टीप्पनी : सामान्य रुप से खडी खेत फ़सल मे त्रिनेत्र का वपराश ना करे.

TRINETRA is an organic product consisting of dry matter decaying bacteria and enzymes. Trinetra can be used for converting dry crop residues into simple forms by decomposing action. Trinetra is derived from natural sources so it is residue free, environment friendly and non toxic to the animals.

Usage : 1. for preparing farm yard manure, apply 50-100 gram of trinetra with water per tonne of manure.
2. for horticultural crops - dropped leaves and flowers on the ground can be sprayed with Trinetra @50 gram per 15 litre pump

Remark : use of trinetra is not advisable for normal standing field crops